WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

19 मार्च 2024 कक्षा 9 Beauty Wellness का वार्षिक पेपर एमपी बोर्ड

Beauty Wellness एक ऐसा विषय है जो किसी भी विद्यार्थी के लिए आसान नहीं होता लेकिन अगर इसी विषय का पेपर वायरल हो जाता है तो कई विद्यार्थियों को तो इस विषय के वायरल होने पर खुशी होती है । कई विद्यार्थी ऐसे होते हैं जब पेपर वायरल हो जाता है तो उनको काफी बुरा लगता है क्योंकि वह काफी समय से तैयारी कर रहे होते हैं और उनको लगता है कि इस पेपर के वायरल होने से अब हमारा नुकसान होने वाला है और इसका सीधा सा प्रभाव हमारे परीक्षा परिणाम पर आ सकता है। आखिर पेपर वायरल कैसे हो जाते हैं और इसके पीछे की क्या वजह है आईए जानते हैं आज के इस आर्टिकल में ।

Beauty Wellness का वायरल पेपर 2024 –

जो पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है अथवा टेलीग्राम पर और अन्य कहीं प्लेटफार्म पर देखने को मिलता है वही पेपर आप यहां से डाउनलोड कर सकते हैं । पेपर के वायरल होने की पुष्टि हमारी वेबसाइट नहीं करती कि आखिर में पेपर कहां से वायरल होता है लेकिन जो पेपर वायरल हुआ है उसे आप यहां से भी डाउनलोड कर सकते हैं। पेपर के वायरल होने पर कई विद्यार्थी झांसी में आ जाते हैं और माफियाओं को कुछ पैसे भी दे देते हैं ।

पेपर के वायरल होने पर विद्यार्थियों का भारी नुकसान –

विद्यार्थी के जीवन की परीक्षा एक सबसे महत्वपूर्ण घड़ी होती है क्योंकि इस वक्त विद्यार्थी अपने भविष्य से लड़ रहे होते हैं और परीक्षा परिणाम के द्वारा उनकी तार्किक शक्ति को आंका जाता है और यह समझा जाता है कि विद्यार्थी परीक्षा में कितना सीरियस था। परीक्षा से अक्सर विद्यार्थी की जिम्मेदारी का पता चलता है कि अपने लक्ष्य के प्रति अथवा अपनी पढ़ाई के प्रति विद्यार्थी ने कितनी मेहनत करी है और यह कितना जिम्मेदार था।
किसी भी विद्यार्थी को यह कभी नहीं लगता कि उसका पेपर वायरल हो जाए क्योंकि पेपर के वायरल होने पर उसको यह भी डर होता है कि अगर कहीं खुलासा होगा तो परीक्षा दोबारा हो सकती है और हमारा 2 महीने का समय बर्बाद भी हो सकता है।

पेपर के वायरल होने पर सरकार की प्रतिक्रिया –

पेपर के वायरल होने पर सरकार पिछले 2 साल से कुछ नहीं बोली है इसके पीछे की सबसे बड़ी वजह यह है कि पेपर के वायरल होने के बाद यह पुष्टि कभी नहीं हुई कि आखिर में ओरिजिनल पेपर वायरल हुआ है क्योंकि अगर ओरिजिनल पेपर वायरल हो जाएगा तो यह निश्चित है की परीक्षा दोबारा कंडक्ट कराई जा सकती है । कई जगह सोशल मीडिया पर यह खबर तो फैल जाती है कि कक्षा दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं के पेपर वायरल हो चुके हैं लेकिन सरकार इस पर कोई कम नहीं उठाती क्योंकि शायद सरकार को यह कंफर्मेशन नहीं होता है की ओरिजिनल पेपर वायरल हुआ है ।

पेपर वायरल होने पर सरकार की लापरवाही –

11वीं की परीक्षा विद्यार्थियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है लेकिन जब इसका पेपर वायरल हो जाता है तो सरकार की कोई भी प्रतिक्रिया नहीं होती है और ना ही कोई ऐसा कदम उठाती है जिससे पेपर वायरल ना हो । परीक्षा के प्रति सरकार इतनी सतर्क नहीं है कि उसका पेपर वायरल ना हो इसके हिसाब से यह कहा जा सकता है कि सरकार कड़ी निगरानी में परीक्षा कंडक्ट नहीं करती है अगर सरकार के द्वारा सिक्योरिटी प्रोवाइड कराई जाए तो पेपर कोई भी वायरल नहीं होगा ।

Leave a Comment