WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कक्षा 11 इतिहास का पेपर सोशल मीडिया पर 2 घंटे पहले ही हुआ वायरल

इतिहास एक ऐसा विषय है जिसमें विद्यार्थियों को कई बार इतिहास का चित्र बनाकर बहुत अच्छे से समझाना पड़ता है। कई विद्यार्थियों को तो पेपर वायरल होने के बाद मौका मिल जाता है कि उनका पेपर अच्छा जाएगा जबकि ऐसा नहीं है । पेपर के वायरल होने पर कई विद्यार्थियों को जब पेपर देखने को मिलता है तो उसमें पता चलता है कि वह प्रश्न पूछे ही नहीं गए हैं जो परीक्षा में मिलने का दावा किया गया था। आखिर में पेपर वायरल होने का सही कारण क्या है और पेपर के वायरल होने से विद्यार्थियों को क्या-क्या नुकसान हो सकता है आज की पोस्ट में यही सब जानेंगे।

पेपर वायरल होने पर विद्यार्थियों को बड़ा झटका–

पेपर के वायरल होने पर उन विद्यार्थियों को बहुत परेशानी हो जाती है जिनकी तैयारी बहुत अच्छी है और पूरी साल भर से मेहनत करते आए हैं। इस प्रकार की विद्यार्थियों को लगने लगता है कि पेपर के वायरल होने पर कहीं परीक्षा को दोबारा कंडक्ट न किया जाए अगर परीक्षा को दोबारा करवाया गया तो हमारा समय बर्बाद हो जाएगा ।

पेपर के वायरल होने पर जिन विद्यार्थियों को लगता है कि हमको ओरिजिनल पेपर ही देखने को मिलेगा तो ऐसा नहीं है पेपर के वायरल होने पर और ओरिजिनल पेपर देखने पर पता चलता है कि उसमें केवल कुछ ही प्रश्न देखने को मिले हैं।

परीक्षा के पैटर्न में होता है बदलाव –

माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की तरफ से कक्षा दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं में पेपर को इस तरह से डिजाइन किया जाता है कि किसी को पता ही नहीं चलता कि किस तरीके के प्रश्न पूछे गए हैं। किसी भी पेपर का एक जैसा डिजाइन देखने को ही नहीं मिलता लेकिन इन सभी की सबसे खास बात यह है कि ब्लूप्रिंट के आधार पर ही सभी प्रश्न देखने को मिलेंगे । कई बार तो परीक्षा में एक ही कक्षा के दो पेपर में प्रश्नों को इधर-उधर करके दे दिया जाता है ताकि विद्यार्थियों को नकल करने का मौका ही ना मिले।

एमपी बोर्ड ले सकती है बड़ा फैसला –

पेपर के वायरल होने पर यह निश्चित नहीं कहा जा सकता कि आगे क्या होने वाला है लेकिन परीक्षा से संबंधित सरकार कोई भी फैसला ले सकती है। यदि पेपर के वायरल होने के बाद यह कंफर्म हुआ कि ओरिजिनल पेपर ही वायरल हुआ है तो निश्चित रूप से परीक्षा को दोबारा भी कराया जा सकता है।

विद्यार्थियों को वायरल पेपर से ध्यान हटा लक्ष्य की ओर बढ़े –

बोर्ड परीक्षा के सभी विद्यार्थियों के लिए सबसे बढ़िया सलाह यह है कि उनको सोशल मीडिया के इस तरह की एजेंट से दूर रहना चाहिए और किताबों पर सबसे ज्यादा भरोसा करके परीक्षा की तैयारी करना चाहिए। सोशल मीडिया पर पैसे कमाने का जरिया ढूंढने वाले लोग इस तरह की हरकत भी कर सकते हैं लेकिन विद्यार्थियों को इस तरह से नहीं फंसना चाहिए और उनको अपनी पढ़ाई स्वयं से करना चाहिए ।

Leave a Comment