WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कानपुर में स्थित करौली सरकार धाम किस कारण प्रसिद्ध है?

कानपुर का स्थित करौली धाम सरकार के नाम से प्रसिद्ध एक बाबा जिसका नाम संतोष सिंह भदोरिया है इनके बारे में ज्यादा लोगों को अभी हाल ही में पता चला है क्योंकि इसके पहले यह बाबा बहुत ही ज्यादा परिचय और प्रख्यात नहीं थे । वर्तमान समय में यह बाबा इतना ज्यादा प्रसिद्ध हो चुके हैं कि इनको लाखों लोग जानते हैं दरबार में आने वाले कोई भी व्यक्ति इनको चैलेंज नहीं कर सकते । यह बाबा भगवान शिव के नाम पर लोगों को ठीक करते हैं उनकी समस्याएं दूर करते हैं क्या है पूरी कहानी लिए जानते हैं विस्तार से ।

करौली सरकार का आश्रम –

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक करौली सरकार के नाम से तीर्थ स्थल मौजूद है जहां पर भगवान शंकर के नाम से यहां के बाबा लोगों का इलाज करते हैं और उनकी समस्याएं दूर करते हैं। यहां पर आने वाली कई श्रद्धालुओं को बाबा पर भरोसा नहीं होता और कई प्रकार की ऐसी चीज देखने को मिलती है जिन पर भरोसा किया जाना बहुत ही मुश्किल होता है।

बीमारी के इलाज का तरीका –

इस धाम पर आने वाले श्रद्धालु यदि किसी बीमारी से ग्रस्त हैं और वह अपना इलाज चाहते हैं तो इलाज करने का एक बहुत ही सिंपल तरीका है क्योंकि यहां के बाबा के द्वारा बीमारी का इलाज ओम शिव के नाम से किया जाता है । हजारों लोग यहां पर अपना इलाज करवाने के लिए आते हैं और ऐसा कहा जाता है कि कई प्रकार के दिमाग से पीड़ित लोग यहां पर ठीक हुए हैं।

धाम पर ठहरने की व्यवस्था–

कानपुर में स्थित करौली सरकार के पास यदि कोई रात के समय में दर्शन करने के लिए जाता है और उसे ठहरने की जरूरत है तो वहां पर बिल्कुल भी घबराने की जरूरत नहीं है धाम पर आपको उपयुक्त व्यवस्था वाले रूम उपलब्ध हो जाएंगे। नहाने धोने की पूरी व्यवस्था और खाने-पीने की भी पूरी व्यवस्था धाम पर मिल जाएगी और जितने भी सस्ते महंगे रूम आपको चाहिए सभी वहां पर उपलब्ध हो जाएंगे।

फूक से बढ़ जाती है दिमाग की Cell –

यहां के बाबा के बारे में कहा जाता है कि यह बाबा ऐसी शक्ति जानते हैं जिसकी वजह से लोगों के दिमाग की कोशिकाएं भी बढ़ जाती हैं यदि कोई उन पर भरोसा ना करे तो निश्चित रूप से वह अपना चमत्कार दिखा देते हैं। हालांकि इस प्रकार के चमत्कार के बारे में हमारी वेबसाइट कोई भी पुष्टि नहीं करती क्योंकि हमारी वेबसाइट के द्वारा किसी भी अंधविश्वास को बढ़ावा नहीं दिया जाता

Leave a Comment