WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत करके पाएं आवास योजना का‌ लाभ, 1 महीने में लिस्ट में आएगा नाम

मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से अब एमपी की जनता बड़ी आसानी से अपने मुख्यमंत्री के पास किसी भी तरह की शिकायत दर्ज कर सकती है । जनसुनवाई पोर्टल को लॉन्च करने के पीछे सरकार का सबसे बड़ा उद्देश्य यही है कि सरकार लोगों से और लोगों का सरकार से संपर्क बढ़े साथ में विचार विमर्श होता रहे। ऐसा माना जाता है कि जब से जनसुनवाई पोर्टल लांच हुआ है तब से मध्य प्रदेश के बहुत से लोगों को इसका लाभ मिला है और राहत मिली है। आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे की जनसुनवाई पोर्टल क्या है और मुख्यमंत्री जी के पास अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

जनसुनवाई पोर्टल का विवरण –

इंटरनेट के जमाने में ऐसा कोई काम नहीं रह गया कि आप घर बैठे नहीं कर सकते इसी तरह से सरकार के द्वारा जनसुनवाई पोर्टल को लांच किया गया है जिसमें सारा काम इंटरनेट पर होता है लेकिन इसके लिए थोड़ी सी ट्रेनिंग होना और इसके बारे में थोड़ी जानकारी होना बहुत जरूरी है । मध्य प्रदेश में 2023 के पहले जब किसी विषय से संबंधित किसी की शिकायत दर्ज करानी होती थी तो किसी अधिकारी के पास ही जाना पड़ता था लेकिन अब ऐसा नहीं है।

जब से जनसुनवाई पोर्टल लांच हुआ है तब से आप घर बैठे ही किसी भी तरह की शिकायत को दर्ज कर सकते हैं वह भी ऑनलाइन तरीके से यह शिकायत डायरेक्ट मुख्यमंत्री ऑफिस तक पहुंचेगी और उनके कार्यकर्ताओं के माध्यम से तुरंत एक्शन लिया जाएगा। मध्य प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा ही की गई थी और अब विधानसभा चुनाव 2023 समाप्त होने के बाद मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी हैं जिनकी देखरेख में यह पोर्टल आगे बढ़ता है ।

एमपी जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने का तरीका–

जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने के लिए आप इस प्रकार का तरीका अपना सकते हैं और अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं इसके लिए आपको किसी अधिकारी की आवश्यकता नहीं है और ना ही आप किसी अधिकारी के पास जाकर शिकायत दर्ज करें स्वयं इस पोर्टल पर शिकायत दर्ज करें जो डायरेक्ट मुख्यमंत्री जी से संपर्क स्थापित करेगी ।

  1. सबसे पहले जनसुनवाई पोर्टल की ऑफिशल वेबसाइट को खोले और यह वेबसाइट किसी ब्राउजर पर ही खोलें ।
  2. वेबसाइट खोलने के बाद आपके पास सबसे पहले इसका हम तब खुलकर आ जाएगा जहां पर शिकायत दर्ज करने के लिए आपको एक विकल्प मिलेगा ।
  3. इस विकल्प पर क्लिक करके आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं और इससे संबंधित जो भी जानकारी है उसे भर सकते हैं इसके लिए सबसे महत्वपूर्ण आपका मोबाइल नंबर होता है जो बहुत ही उपयुक्त तरीके से भरना चाहिए क्योंकि इसी के माध्यम से आप अपनी शिकायत की स्थिति को भी चेक कर सकते हैं।
  4. शिकायत हो जाने के बाद आप की शिकायत पर कोई कार्रवाई की गई है या नहीं इसे चेक करने के लिए आप फिर से इसी पोर्टल पर आएंगे और अपने मोबाइल नंबर के ओटीपी के माध्यम से शिकायत की स्थिति चेक कर सकते हैं कि क्या कार्रवाई की गई है।

मुख्यमंत्री जनसुनवाई योजना के उद्देश्य–

मुख्यमंत्री जनसुनवाई योजना का उद्देश्य यह है कि प्रदेश में कई बार निर्धन और गरीब लोगों पर इतना अत्याचार होता है कि वह सह नहीं पाते और दूसरी चीज यह हो जाती है कि जब वे कहीं शिकायत करने के लिए जाते हैं तो कई अधिकारी भी उनको शिकायत दर्ज करने से मना कर देते हैं। इसके अलावा कई तरह की ऐसी समस्याएं हैं जिन कर्म से आम जनता की शिकायतों को मानता नहीं दी जाती और उनकी शिकायत दर्ज नहीं की जाती इसीलिए सरकार के द्वारा जनसुनवाई पोर्टल लॉन्च किया गया था कि सभी लोग अपनी शिकायत सीधी मुख्यमंत्री तक पहुंच सके और घर बैठे ही शिकायत दर्ज कर सकें।

आवास योजना का‌ लाभ, 1 महीने में लिस्ट में आएगा नाम

यदि अभी तक आपका प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत नाम नहीं आया है तो आप मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर जाकर शिकायत करके एक महीने के अंदर ही आवास योजना में आपका नाम आ जाएगा।

Leave a Comment